Vorteile von Aprikose in Hindi

Aprikose auf Hindi – एप्रीकॉट एक पहाड़ी गुठलीदार फल है। जिसे हिंदी में (Aprikosenbedeutung in Hindi) खुबानी, जजदालू, चिलू संस संस्कृत में उउाण के नाम से जाना जाता है है है है है। नाम से जाना है है है है। के नाम से संसाता है है।। के के के औ संसाता है है है।।।।।।।।।।।।।।।। है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है ( खुबानी का वनस्पति के नाम Prunus armeniaca (प्रूनस् आरमीनिआका) ह और यह Rosaceae (रोजेसी) कुल से संबंध रखता है।

” ” तथा इसमें फूलने वाले फूल से हल हल्के गुलाबी ंग के होते हैं।।।। जो पांच पंखुड़ियों वाले होते है। जो आमतौर पर अकेले या जोड़ों में खिलते है।

‘एप्ीकॉट फल’ को भात औऔ पाकिस्तान में काफी महत्वपू्ण फल समझा जाता है।।।।। समझा जाता है। इसमें कई विटामिंस और फाइबर होते हैं। जिसके सेवन कई अद्भुत फायदे होते हैं। तो आइए जानते हैं। “

Was heißt Aprikose auf Hindi | खुबानी क्या है?

Aprikose auf Hindi

खुबानी एक गर्म तासीर वाला फल है। जो स्वाद में मीठा और आकार में आडू या पल्म जैसा हो होा यह आमतौर पर पीले या नारंगी रंग में होता है। इसका छिलका मुलायम तथा हल्का खुरदरा होता है। ” जिसे खाने के लिए भी उपयोग किया जाता है। ” इसके बीज को छोटे बच्चे को देना सख्त मना किया जा ती क्योंकि इसके बीज में जहरीला रसायन ‘साइनाइड’ हो ता जो जानलेवा भी हो सकता है।

” और इसके अर्ध बोने पेड़ की ऊंचाई करीब 12 से 18 फीट तो तो फीट तथा बोने किस्मो वाले खुबानी के पेड़ की बात करेंी तो यह बहुत ही छोटे लगभग 5 से 8 फीट लंबी और चौड़ी होहोहोह

” तथा इसमें खिलने वाले फूल से हल हल्के गुलाबी ंग के होते हैं।।।। जो पांच पंखुड़ियों वाले होते है जो अकेले या जोड़ों में खिलते है।।।

” “

खुबानी के कई किस्में हैं। जिनमें कैशा, शिपलेज, चौबटिया मधु, डुन्स्टानअ्ली, न्यू लार्जअली्ली औऔ मास्काट आदि शामिल है।। जो शीघ्र तैयार होने वाली किस्में हैं। ” ” जो भारत में काफी प्रचलित किस्मों में से एक हैं।

इसके बारे में भी विस्तार से पढ़ें: Vorteile von Avocado in Hindi | एवोकाडो क्या है? फायदे और नुकसान

खुबानी का उत्पादन

खुबानी की खेती पूरे विश्व भर में की जाती है। जिनमें अमेरिका, तुर्की, भारत, और पाकिस्तान आदई हथ ” Jahr 2005 390.000 Millionen ” खुबानी एक ठंडे प्रदेश का पौधा है। गर्मी में मर जाता है। या फिर फल ही नहीं देता है। भात में इसका उत्पादन उत्त के पहाड़ी इलाकों में की जाती है।।।।। इलाकों जिसमें हिमाचल प्रदेश, कश्मीर और उत्तराखिम ादि शदि शदि

Vorteile von Aprikose in Hindi | खुबानी के फायदे

” , राइबोफ्लेविन, फोलेट, बीटा कैकै औ औ फैट कई पोषक तत्व प्चुचु मात्र में पाए जाते हैं। “

1.हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए

श? ” ” तो आप अपने आहार में खुबानी को शामिल कर सकते हैं। इसमें पोटैशियम पोटैशियम, मैग्निशियम, कैलशियम, फास्फोफो आदि कई ज ज ज पोषक तत्व पाए जाते हैं।।।। तत तत्व पाए जो काफी भरपूर मात्रा में होते हैं। “

2. पाचन क्रिया को बेहतर बनाने के लिए

” जो हमारे दिनचर्या को काफी खराब बना देता है। ” “

3. एनीमिया रोग दूर करने के लिए

एनीमिया रोग शरीर में खून की कमी को कहते हैं। इसमें लाल रक्त कोशिकाएं कम हो जाती है। ” “

4. हृदय को स्वस्थ रखने के लिए

” तो आप इस खुबानी फल को अपने आहार में शामिल कर सकते फल को अपने ” जो दिल को मुक्त कणों से बचाता है। रक्त वाहिकाओं और धमनियों के तनाव को आराम देता है और रक्तचाप को कम करने में मदद करता है। इसमें मौजूद फाइबर कोलेस्ट्रोल को तोड़ने का ककर काम जिससे हमारा हृदय तनाव मुक्त रहता है। जो हमारे हृदय के स्वस्थ के लिए काफी लाभदायक हो ता

5. सूजन दूर करने के लिए

यदि आपके शरीर में सूजन की समस्या होती रहती है। तो आप खुबानी का सेवन कर सकते हैं। इसमें एंटी इन्फ्लेमेटरी गुण पाया जाता है। जो सूजन को दूर करने में काफी सहायक होता है।

6. वजन कम करने के लिए

मोटापे से परेशान व्यक्ति एप्रीकॉट का ि ” ” “

7. गर्भवती महिलाओं के लिए

» जिसके लिए वह कई तरह का बेहतर आहार का सेवन करती हैी ऐसे में आप खुबानी को अपने आहार में शामिल कर ि ” औऔ गग्भवती तथा स्तनपान ककाने वाली महिलाओं को बेहत पोषण प्दान कका है।।।। प प्दान

8. आंखों के समस्याओं के लिए

बढ़ती उम्र के साथ हमारी आंखें कमजोर होने लगती है जिससे हमें आसपास की वस्तुएं भी काफी धुंधली नज नज आने लगती है।। जो ज्यादात हमाे शशश में पोषक तत्वों की के के काण होती है।।। ऐसे में आप इस खुबानी फल का सेवन कर सकते हैं। “

9. त्वचा के लिए

” यह त्वचा द्वारा जल्द अवशोषित हो जाता है। और इससे त्वचा तैलिये भी नहीं लगता है। “

10. कान का दर्द दूर करने के लिए

” ” इसमें पाया जाने वाला एंटीऑक्सीडेंट प्चुचु मात्रा में होता है।।। जो कान के दर्द से राहत दिलाने में काफी मदद करतथ ह

11. बार-बार प्यास लगने की समस्या दूर करने के लिए

बार-बार प्यास लगना अक्सर किसी दवा के साइड इफेक्ट्स के कारण या किसी बीमारी के लक्षण के कारण उत्पन्न हो सकता है। इसके अलावा मेनोपॉज के कारण भी बार-बार प्यास लग सक ” जो काफी लाभदायक साबित होता है।

12. अस्थमा रोग दूर करने के लिए

अस्थमा जिसे दमा भी कहते हैं। इसमें सांस लेना मुश्किल होता है। . ” इसमें लाइकोपीन कैरोटीनॉयड कंपाउंड होता है। जो अस्थमा को नियंत्रित करने में काफी मदद करता है

13. आग से जले घाव दूर करने के लिए

यदि आप खाना पकाने वक्त या किसी कारणवश है। हाथ पैर जला लेते हैं। तो आप खुबानी के बीज का तेल लगा सकते हैं। जो जल्द राहत दिलाने में काफी मदद करता है।

14. गठिया के दर्द से राहत पाने के लिए

गठिया एक ऐसी समस्या है। ” जिसमें काफी दर्द की समस्या बनी रहती है। ” जो काफी हद तक राहत पाने में मदद कर सकता है।

15. मसल्स बनाने में सहायक के लिए

अभी आप काफी कमजोर है। और मसल्स निर्माण करने में आपको कठिनाई हो रही हैी तो आप अपने आहार में सूखे खुबानी को शामिल कर सकते ै कामिल इसमें प्रोटीन काफी प्रचुर मात्रा में पाया जाता ै ै जो मसल्स निर्माण करने में काफी मदद करता है।

16. शारीरिक कमजोरी दूर करने के लिए

यदि आप कई दिनों तक बीमार रहे हैं। जिसके कारण आपको कमजोरी आ गई है। ” इसका उपयोग हिमालयी क्षेत्ों में काफी अधिक किया जाता है।।। इसमें भरपूर मात्रा में पोषक तत्व होते हैं। “

खुबानी फल खाने का समय

खुबानी एक फल है। जिसे आप सुबह या दोपहर कभी भी खा सकते हैं। ” ोजोजाना सामान्य तौतौ प इसे आप चार से खुब खुबानी खा सकते हैं।।।।। छह खुब खुबानी

इस पढ़ें: Vorteile von Trockenfrüchten auf Hindi – ड्राई फ्रूट्स के फायदे

Verwendung von Aprikose in Hindi | खुबानी का उपयोग Nebenwirkungen von Aprikose in Hindi | खुबानी के नुकसान

1. खुबानी का उपयोग आप मिल्कशेक्स के साथ मिलाक सेवन क क सकते हैं।।।।।। मिलाक

2. . इसके अलावा इसे दलिया के साथ मिलाक नाश्ते में भी सेवन क क सकते हैं।।

3.

4. इसे अन्य फलों की त त सीधे तौ प प धोक भी सेवन क क सकते हैं।।।

5. इसे सूखे खूबानी (ड्राई फ्रूट) के रूप में भी खा सक तकत

Nebenwirkungen von Aprikose in Hindi | खुबानी के नुकसान

” “

1.

2. किसी व्यक्ति को इसके सेवन से एल एल एल एल एल क होती तो जितन हो सके सेवन क क क से।।।

3. इसका बीज खाने योग होता है। ” जिसके अधिक सेवन से जानलेवा साबित भी हो सकता है।

Haftungsausschluss: Die in diesen Veröffentlichungen enthaltenen Aussagen, Meinungen und Daten sind ausschließlich die der einzelnen Autoren und Mitwirkenden und nicht von Credihealth und dem/den Herausgeber(n).

Rufen Sie +91 8010-994-994 an und sprechen Sie mit den medizinischen Experten von Credihealth FREI. Holen Sie sich Unterstützung bei der Auswahl des richtigen Facharztes und der richtigen Klinik, vergleichen Sie die Behandlungskosten verschiedener Zentren und erhalten Sie zeitnahe medizinische Updates

Next Post

540: Dr. Stephen Cabral darüber, wie Sie Ihr biologisches Alter senken, länger leben und jünger aussehen können

Der heutige Gast ist Dr. Sara Gottfried und diese Folge geht tief auf Frauen, Essen und Hormone ein. Sie ist so reich an Wissen und sie ist auch eine persönliche Freundin. Sie ist staatlich geprüfte Ärztin und praktiziert evidenzbasierte, integrative, präzise und funktionelle Medizin, und wir berühren heute so viele […]
typesofhealth.de WordPress Theme: Seek by ThemeInWP